बापू के साबरमती आश्रम से हुई थी ‘अमृत महोत्सव’ की शुरुआत: पीएम

0
1482

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि इस बार १५ अगस्त को देश अपनी आजादी के ७५वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है। इस बार राष्ट्रगान से जुड़ा एक अनोखा प्रयास होने जा रहा है। सांस्कृतिक मंत्रालय की कोशिश है कि इस दिन ज्यादा-से-ज्यादा भारतवासी मिलकर राष्ट्रगान गाएं।
पीएम मोदी ने कहा-ये हमारा बहुत बड़ा सौभाग्य है कि जिस आजादी के लिए देश ने सदियों का इंतजार किया, उसके ७५ वर्ष होने के हम साक्षी बन रहे हैं। आपको याद होगा, आज़ादी के ७५ साल मनाने के लिए, १२ मार्च को बापू के साबरमती आश्रम से च्अमृत महोत्सवज् की शुरुआत हुई थी 7″इसी दिन बापू की दांडी यात्रा को भी पुनर्जीवित किया गया था, तब से, जम्मू-कश्मीर से लेकर पुडुचेरी तक, गुजरात से लेकर पूर्वोत्तर तक, देश भर में च्अमृत महोत्सवज् से जुड़े कार्यक्रम चल रहे हैं।
पीएम मोदी ने कहा-इस बार १५ अगस्त को देश अपनी आजादी के ७५वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है।ये हमारा बहुत बड़ा सौभाग्य है कि जिस आजादी के लिए देश ने सदियों का इंतजार किया, उसके ७५ वर्ष होने के हम साक्षी बन रहे हैं। आपको याद होगा, आज़ादी के ७५ साल मनाने के लिए, १२ मार्च को बापू के साबरमती आश्रम से च्अमृत महोत्सवज् की शुरुआत हुई थी 7″इसी दिन बापू की दांडी यात्रा को भी पुनर्जीवित किया गया था, तब से, जम्मू-कश्मीर से लेकर पुडुचेरी तक, गुजरात से लेकर पूर्वोत्तर तक, देश भर में च्अमृत महोत्सवज् से जुड़े कार्यक्रम चल रहे हैं ।

उन्होंने कहा-‘अमृत महोत्सव किसी सरकार का कार्यक्रम नहीं, किसी राजनीतिक दल का कार्यक्रम नहीं, यह कोटि-कोटि भारतवासियों का कार्यक्रम है।

पीएम ने कहा-‘ऐसा ही एक आयोजन इस बार १५ अगस्त को होने जा रहा है, ये एक प्रयास है – राष्ट्रगान से जुड़ा हुआ। सांस्कृतिक मंत्रालय की कोशिश है कि इस दिन ज्यादा-से-ज्यादा भारतवासी मिलकर राष्ट्रगान गाएँ। इसके लिए एक वेबसाइट भी बनाई गई है – राष्ट्रगानडॉटइन 7 इस वेबसाइट की मदद से आप राष्ट्रगान गाकर, उसे रिकॉर्ड कर पाएंगे, इस अभियान से जुड़ पाएंगे । मुझे उम्मीद है, आप, इस अनोखी पहल से जरूर जुड़ेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here