उत्तराखण्ड धर्म आध्यात्म एवं समृद्ध सांस्कृतिक विरासत वाला प्रदेश: धामी

0
1129

देहरादून (सूचना विभाग)। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शुक्रवार को मालसी स्थित एक होटल में हिन्दुस्तान उत्तराखण्ड समागम कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने राज्य के समग्र विकास की दिशा में की जा रही पहल एवं विभिन्न सम सामाजिक विषयों पर अपने विचार रखें तथा समाज सेवा के क्षेत्र में सराहनीय योगदान देने वाले लोगों को सम्मानित किया। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रदेश का समग्र विकास हमारी प्राथमिकता है। उत्तराखण्ड धर्म आध्यात्म एवं समृद्ध सांस्कृतिक विरासत वाला प्रदेश है। इसके मूल स्वरूप को बनाये रखने के लिये प्रयास किये जा रहे हैं। हमारा प्रदेश २०२५ तक देश के अग्रणी राज्यों में शामिल होने के साथ ही नशा मुक्त प्रदेश बने इस दिशा में भी हमारे प्रयास निरन्तर जारी है। उन्होंने कहा कि नशा हमारे युवाओं का भविष्य बर्बाद कर रहा हैं। युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए युवाओं को नशे से दूर रखना समाज के हित में है। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में अच्छा कार्य व्यवहार, अच्छी कार्य संस्कृति, सुशासन, सेवा, संकल्प और गुड गवर्नेंस का कार्य अगर किसी ने किया है तो वो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने स्वच्छ भारत अभियान की प्रेरणा देकर समाज में स्वच्छता के प्रति जनजागरूकता तथा गंदगी से होने वाली अनेक बीमारियों से छुटकारा दिलाने का कार्य किया है। इस अभियान के तहत देश में १२ करोड़ शौचालय बनाये जा चुके है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व का ही प्रतिफल है कि पिछले नौ सालों में देश के हर वर्ग का कल्याण हुआ है और भारत का मान देश के साथ ही विदेशों में भी बढ़ा है। आजादी के बाद के वर्षों की तुलना में पिछले नौ वर्षों के दौरान विकास के सभी मापदंडों के आधार पर हम कह सकते हैं, हमारे देश ने हर क्षेत्र में जबरदस्त प्रगति की है, जिसका लोहा आज संपूर्ण विश्व मान रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here